Wi-Fi 6 kya hai | what is Wi-Fi 6 in Hindi

What is Wi-Fi 6 in Hindi | Wi-Fi 6 kya hai ?

क्या आपका Wi-Fi router ठीक से नहीं चलता है? या आप कोई नया router खरीदने की सोच रहे हो, और router खरीदते वक्त कोनसे specification देखने चाहिए ?  और यदि आपको Wi-Fi के standards के बारे में जानना है, तो हमने इसी के बारे में यहाँ पे समझाया है. Wi-Fi 6 kya hai या  what is Wi-Fi 6 in Hindi.

"<yoastmark

Wi-Fi का इतिहास (history of Wi-Fi)

पहले के टाइम पे ऐसा होता था की internet  के  access के लिए बहुत ही ज्यादा wire लगाने पड़ते थे. और एक गाने को डाउनलोड करने के लिए भी आधा  घंटा लग जाता था. तब अगर आप internet इस्तेमाल कर रहे हो, तो साथ  में आप landline का उपयोग  भी नहीं कर सकते थे.

"<yoastmark

बादमे Wi-Fi technology आई, जो समय बदलते सस्ती होती गयी. पहला Wi-Fi 1997 में आया था. जिसमे  2Mbit/s की लिन्क स्पीड थी. फिर इस technology में धीरे धीरे सुधार होते गए.

Wi-Fi Standards

Wi-Fi के standards IEEE के द्वारा मेनेज किये जाते है. IEEE का फुल फॉर्म है : (Institute of Electrical and Electronics Engineers).

IEEE के अनुसार 802 लोकल एरिया नेटवर्क को सूचित करता है, जब की 802.11 Wireless LAN  सूचित करता है.

अच्छे से  समझने के लिए आप नीचे का टेबल देख सकते है.

 Release Year Wi-Fi  technology frequency Data rate
1997 802.11 2.4 GHz 1 , 2 Mbit/s
1999 802.11a 2.4 GHz 6, 9, 12, 18, 24, 36, 48, 54 Mbit/s
1999 802.11b 2.4 GHz 1, 2, 5.5, 11 Mbit/s
2003 802.11g 2.4 GHz 6, 9, 12, 18, 24, 36, 48, 54 Mbit/s
2009 802.11n 2.4/5 GHz up to 600 Mbits/s
2013 802.11ac 2.4/5 GHz up to 3466.8 Mbits/s

इस टेबल से आप देख सकते हो, जैसे जैसे Wi-Fi टेक्नोलॉजी में सुधार हुआ है, वैसे वैसे Wi-Fi की स्पीड भी बढ़ने लगी है.

सामान्य इंसान के लिए यह standard याद रखना मुश्किल होता है। इसलिए Wi-Fi Alliance ने  इसकी naming में बदलाव किये है.

जैसे की 802.11n को नाम दे दिया Wi-Fi 4,

802.11ac को नाम दे दिया Wi-Fi 5,

802.11ax को नाम दे दिया Wi-Fi 6.

इसको समज ने के लिए आप नीचे का टेबल देखिये।

Wi-Fi standard Wi-Fi name
802.11n Wi-Fi 4
802.11ac Wi-Fi 5
802.11ax Wi-Fi 6

"<yoastmark

तो अब  समजिये Wi-Fi 6 क्या है। What is Wi-fi 6 in Hindi

Wi-Fi 6 एक next generation टेक्नोलॉजी है. जिसमे महत्तम10.56 Gbit/s तक की स्पीड मिल सकती है।बताया जा रहा है की इस टेक्नोलोजी से  8K तक की  video streaming हो सकती है.

आप को बता दे की यह टेक्नोलॉजी 2019 में आने वाली है.

इसके कई सारे फायदे है जैसे की,

  1. Higher data rates  11 Gbit/s तक की स्पीड मील सकती है.
  2. Increased capacity ज्यादा यूजर को connect कर सकते है.
  3. Good performance in dense environments अगर ज्यादा यूजर है फिर भी performance अच्छी रहेगी.
  4. Improved power efficiency, power का काम consumption होगा.

अगर आप कोई नया router लेते है, तो उसे आसान बनाने के लिए उसपे लिखा जाएगा Wi-Fi 4 या, Wi-Fi 5 या, Wi-Fi 6 .

अलग अलग devices के user interface में भी Wi-Fi के नाम बताये जाएंगे.

"<yoastmark

Wi-Fi 6 का भी अगर router है और  सामने device Wi-Fi 6 को सपोर्ट नहीं करती है तो आपको उतनी स्पीड नहीं मिलेगी जितना आप सोच रहे है.

मान के चलो आपने घरमे बहुत सारी devices connect कर के रखी हुई है. जैसे की स्मार्ट टीवी, स्पीकर ,LED bulb, तो आप को यह technology  से  performance कोई ज्यादा फरक नहीं पड़ेगा।

अब देखना यह है की कोनसी कंपनी इसको manufacture सबसे पहले करती है और मार्केट में लाती है.

और  पढ़े : CNC kya hai ?

About the author

Mohit

Hello, my name is Mohit. i am engineer by education and i am passionate about getting new knowledge and share with others that is the reason why i created this website.

View all posts

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *