MIG welding kya hai | MIG welding in Hindi

Welding के कई प्रकार है, जिसमे से एक प्रकार है MIG welding. तो यह MIG welding होता क्या है? इसका फुल फॉर्म (Metal Inert Gas) है.

What is MIG welding in hindi

MIG welding ko कई बार Gas metal arc welding (GMAW) या metal active gas (MAGwelding से जाना जाता है.

mig welding mask in hindi

Definition of MIG welding

यह एक ऐसी welding process है जिसमे work piece और consumable वायर electrode के बिच में electric arc रूप लेती है. जोकि work piece के मेटल को heat करती है, जिससे melt और join बनता है. electrode wire साथ shielding gas को welding gun के द्वारा feed किया जाता है.

यह प्रोसेस automatic और semi automatic भी हो सकती है, सामान्य रूप से इसमें constant voltage और direct current पावर use होता है.

लेकिन constant current और alternating current भी use हो सकते है.

History of MIG welding in Hindi

MIG welding को सबसे पहले 1940 में Aluminium और दूसरी नॉन फेरस मेटल के लिए  develop किया गया था.

उसके बाद इसे स्टील में उपयोग किया जाने लगा, क्योंकी यह दूसरे वेल्डिंग प्रोसेस के मुकाबले ज़्यादा fast वेल्डिंग time है.

सामान्य रूप से inert गैस के तौर पर semi-inert gases का उपयोग होता है, जैसे की carbon dioxide.

1950 और 1960 के बाद यह industries में ज्यादा उपयोग में आने लगा. आज MIG welding industries में सबसे ज्यादा उपयोग में लिया जाता है.

Equipment of MIG welding in Hindi

MIG welding में welding gun,welding power supply, wire feed unit, welding electrode wire, और shielding gas supply का उपयोग होता है.

Welding gun and wire feed unit

MIG welding gun में कई महत्व के पार्ट्स होते है, जैसे की:  control switch, contact tip, power cable, gas nozzle, electrode conduit and liner, और gas hose.

जब operator control switch या trigger दाबाता है, तब wire feed, electric power,  shielding gas flow start होते है, जिससे की electric arc उत्पन्न होती है.

contact tip सामान्य रूप से copper की बानी होती है. जोकि power supply से connected होती है, जिसका काम electrode तक electric पावर पहुचाना होता है.

यह contact tip secure तरीके से फिट होनी चाहिए। और इसकी माप और size पहले से सुनिश्चित होती है. इसमेसे electrode पसार होता है.

gas nozzle, shielding gas को एक मात्रा में welding zone में पसार करती है.

Tool style

यह एक सामान्य उपयोग में  वाला electrode holder है जो की air cooled होता है.

इसमें वाटर cooled होता है, बस डिफरेंस यह है की यह पानी से चलता है.

Power supply

इसका काम power supply करना है, लेकिन constant वोल्टेज और Direct Current. जैसे arc length change होती है, वैसे ही voltage और करंट में change होता है.

power supply for welding in Hindi

ज़्यादातर जगह पर  constant वोल्टेज और Direct Current वाला power supply ही use होता है. लेकिन कई जगह पर constant currentऔर Alternative Currentवाला power supply use होता है.

Electrode

electrode welding process में एक महत्व का भाग है. इलेक्ट्रोड की quality से welding की quality निर्भर करती है.

सामान्य जो भी बाज़ार में electrode मिलते है उसमे deoxidizing metals होती है, जैसे की silicon, manganese, titanium and aluminum.

MIG Welding के diameter 0.7 से 2.4mm के बिच में होते है. लेकिन कुछ में  4 mm तक जा सकते है.

Shielding gas

आखिर सवाल आता है की shielding gas MIG welding में क्यों उपयोग में लिया जाता है.

इसका उपयोग वातावरण में रहे वायु जैसे की oxygen, hydrogen से welding को सुरक्षित रखना है.

gas in mig welding

सामान्य रूप से shielding gas के तौर पर carbon dioxide को उपयोग में लिया जाता है .

mig welding gas in hindi

लेकिन कुछ non ferrous metals में  argon and helium का use होता है.

Difference between MIG welding and TIG welding in Hindi

आप को बता दे की  TIG welding का पूरा नाम tungsten inert gas वेल्डिंग है।

इन दोनों welding में यही अंतर है की MIG welding में  wire electrode use होता है, जोकि consumable होता है. जबकि TIG welding में लम्बा tungsten electrode rod use होता है.

आप हमारे और भी आर्टिकल भी पढ़ सकते है.

  1. cnc kya hai
  2. Boiler kya hai

Advantages of MIG welding kya hai

MIG welding के फायदे (लाभ ) क्या है? 

  1. High quality के weld जल्दी से कर सकते है.
  2. इसमें flux use नहीं होता है, जिसकी वजह से slag के  entrapment नहीं बनते है. और इस वजह से हाई quality weld बनता है.
  3. gas shield arc को protect करती है, इससे बहुत काम chances होते है, की alloying elements का loss हो.
  4. MIG वेल्डिंग बहुत ही flexible है. मतलब  बहुत सारी metals और alloys के साथ उसे होती है.
  5. MIG welding को बहुत सारी तरीके से उपयोग में ले सकते है, जैसे की semi और  fully automatic तरीके से.

Disadvantages of MIG welding kya hai.

MIG welding के नुक्सान (गैर लाभ) क्या है?

  1. MIG welding vertical या overhead welding positions में उपयोग में नहीं ली जा सकती।
  2. इसके equipment बहुत ही जटिल है.

Operation of MIG welding in Hindi

सबसे पहले कोई भी operator एक हाथ में face shield को पकड़ेगा और दूसरे हाथो में वह वेल्डिंग गन को पकड़ेगा।

उसके बाद वर्कपीस पर वेल्डिंग गन को सही पोजीशन में रखेगा।

और जैसे ही वह ट्रिगर दबाएगा  वैसे ही इलेक्ट्रोड वायर धीरे धीरे बहार आएगी और वर्कपीस के साथ आर्क उत्पन्न होगी और वेल्डिंग बन जाएगी।

इस में एक बात ध्यान रखने वाली है, की जब भी आप वेल्डिंग स्टार्ट करे तो यह ध्यान रखे की वायर इलेक्ट्रोड ज़्यादा बहार ना आया हो.

अगर वायर ज़्यादा बहार है, तो उसे काट दे.

safety in MIG welding in Hindi

MIG welding करते समय आप को सेफ्टी का बहुत ध्यान रखना चाहिए , क्योकि इस प्रोसेस के दौरान बहुत ज़्यादा हीट generate होती है.और साथ ही में ख़राब गैस produce होती है.

सेफ्टी के लिए आप हो, हमेशा safety equipment use करने चाहिए।

निचे मैंने सेफ्टी equipment बताये है.

  1. Weld mask
  2. Safety glasses
  3. Gloves
  4. Aprons and sleeves
  5. safety shoes

Weld mask

यह आपकी आँखों को और आपके चहेरे को बचता है, और साथ में ही जो ज़हरीली गैस बन रही है , उससे नाक से अंदर जाने से बचाता है.

mig welding kya hai

Safety glasses

safety glasses in Hindi

यह आप की आँखों को बचाता है। वेल्डिंग के टाइम सेफ्टी ग्लास ज़रूर पहनने चाहिए।

Gloves

MIG welding के दौरान बहुत ज़्यादा heat generate होती है, इसलिए यह हमारे हाथो को burn कर सकती है.

safety gloves in india

इससे बचने के लिए welding के वक्त ज़रूर gloves पहनने चाहिए।

Aprons and sleeves

यह आपके बाकि शरीर को हीट से, और आप के कपड़ो को जलने से बचाते है.

apron in welding in india

Safety shoes

जैसे की वेल्डिंग के दौरान हीट generate होती है. तो इसलिए safety shoes का पहनना भी ज़रूरी है, यह आपके पाँव को सुरक्षित रखता है.

हमारा यह article पढ़ने के लिए धन्यवाद.

 

About the author

Mohit

Hello, my name is Mohit. i am engineer by education and i am passionate about getting new knowledge and share with others that is the reason why i created this website.

View all posts

7 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *